Pandit Deendayal Upadhyay को दी सभी नेताओ और अभिनेताहो ने दी विनम्र श्रद्धांजलि

Pandit Deendayal Upadhyay: पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी को उनकी पुण्यतिथि पर देशभर के अपने परिवारजनों की ओर से शत-शत नमन। उन्होंने भारतीय संस्कृति और विरासत को केंद्र में रखकर देश को आगे ले जाने का मार्ग दिखाया, जो विकसित भारत के निर्माण में भी प्रेरणास्रोत बना है।

प्रखर राष्ट्रवादी और वंचितों के अधिकारों के रचनापुंज Pandit Deendayal Upadhyay ji की पुण्यतिथि पर कोटिश: वंदन।

दीनदयाल जी का जीवन राष्ट्रसेवा व समर्पण का विराट प्रतीक है। उनका मानना था कि कोई भी देश अपनी संस्कृति के मूल विचारों को भुलाकर प्रगति नहीं कर सकता। जब भी मानवता के कल्याण की बात होगी, पंडित जी के एकात्म मानववाद और अंत्योदय के सिद्धांत सम्पूर्ण मानवजाति को ध्रुव तारे की तरह मार्गदर्शित करेंगे।

‘एकात्म मानव दर्शन’ के प्रणेता, भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य, श्रद्धेय पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने ‘अंत्योदय’ के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया।

उनके जीवन का हर क्षण देश के उत्थान में व्यतीत हुआ। आज उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि!

श्रद्धेय पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने राष्ट्र को अंत्योदय एवं एकात्म मानववाद जैसी प्रगतिशील विचारधारा दी। उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन समाज सेवा एवं लोककल्याण के लिए खपा दिया।

दीनदयाल जी एक ऐसे संगठनकर्ता और नेता थे जिन्होंने सार्वजनिक जीवन में व्यक्तिगत शुचिता एवं गरिमा के उच्चतम आयाम स्थापित किए। उनका तपस्वी जीवन हम सभी के लिए प्रेरणीय है।

इसे पढ़े – Israel Hamas war 2023, Hamas warns Israel Rafah: हो सकती है ‘हज़ारों लोगों’ की मौत

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top